परियोजना विश्लेषण और प्रलेखन विभाग (प्रोजेक्ट एनालिसिस एंड डॉक्यूमेंटेशन डिवीजन)

क्यूसीआई का परियोजना विश्लेषण और प्रलेखन प्रभाग (प्रोजेक्ट एनालिसिस एंड डॉक्यूमेंटेशन – पी ए डी डिवीजन) उन परियोजनाओं को संभालता है, जिनका उद्देश्य सरकारी, अंतर-सरकारी, क्षेत्रीय और वैश्विक संगठनों के लिए स्वैच्छिक अनुरूपता से सम्बंधित मूल्यांकन के फ्रेमवर्क का डिजाइन करना, फ्रेमवर्क का विकास करना और फिर उसका कार्यान्वयन करना होता है 

राष्ट्रीय, क्षेत्रीय और वैश्विक प्रासंगिकता वाली महान पहलों को अभियान देने में यह विभाग स्वयं  को गौरवान्वित महसूस करता है। क्यूसीआई इस विभाग के  माध्यम से विभिन्न सरकारी मंत्रालयों/विभागों/संगठनों, औद्योगिक निकायों, अंतरराष्ट्रीय दाता एजेंसियों, विकास संगठनों, और संयुक्त राष्ट्र के एफएओ, यूएनएफएसएस, यूएनसीटीएडी (अंकटाड), सार्क कृषि केंद्र, आईसीआरआईएसएटी, आईटीटीओ आदि जैसे अंतर-सरकारी निकायों को समाधान प्रदान करता है |

पीएडी प्रभाग वर्तमान में ऐसे असंख्य स्वैच्छिक प्रमाणन स्कीम को संभालता है जो अत्यंत विविधतापूर्ण अनेकों सेक्टर्स से सम्बंधित है जैसे -कृषि [इंडजीएपी, औषधीय पौधों के उत्पादों के लिए स्वैच्छिक  प्रमाणन योजना (वीसीएस-एमपीपी)], खाद्य [क्यू सेफ़, इंडजीएपी और इंडिया एचसीसीपी], हेल्थकेयर [आयुष मार्क,  चिकित्सा उपकरण योजना का भारतीय प्रमाणन (आईसीएमईडी)], उद्योग [स्टार योजना, आरएमसीपीसीएस], नियामक [वीसीएस-रिमोटली पायलटेड एयरक्राफ्ट सिस्टम], और कार्मिक क्षमता [वीसीएस-पारंपरिक सामुदायिक स्वास्थ्य सेवा प्रदाता, बायोमेडिकल स्किल सर्टिफिकेशन स्कीम (बीएससीएस)] इत्यादि |

यह विभाग  वैश्विक मानक निकायों के साथ अंतरराष्ट्रीय समतुल्यता के लिए बेंचमार्किंग जैसे उपकरणों का उपयोग करने का प्रयास करता है और संयुक्त राष्ट्र के आईटीसी के मानक मानचित्र पर इसे मैप करने का प्रयास करता है।

 

QCI © 2020 सर्वाधिकार सुरक्षित
7Techies के द्वारा प्रबंधित
आखरी अपडेट: 28 दिसंबर 2021.